moong dal khichdi: moong dal khichdi recipe in Hindi home cooking

 moong dal khichdi हर किसीको पसन्द होताहै और भारत की हर त्योहार में लगभग इस रेसिपी की इस्तेमाल कियाजाताहै, औरभी इस रेसिपी को बनानेकी बिधि भी बहत आसान है तो बिनादेरीकिए बनातेहै आजकी रेसिपी मूंग डाल खिचड़ी,

moong dal khichdi recipe in hindi

recipe by – cooking web

preparation time –

cooking time – 

total time – 

cuisine – india

recipe yield – 3 लोग

moong dal khichdi ingredients

चावल – 200g

मूंग डाल – 100g

आलू – 1 बडासा

चीनी – 1 चमच

देसी घी – 2 चमच

नारियल की बुरादा – 1 कप

फ़ौरन – आधा चमच

सूखा मिर्च – 2 ठो

हल्दी पाउडर – 1 चमच

नमक – स्वाद अनुसार

khichdi बनानेसे पहले की तैयारी

आलू को बारीकीसे काटदो और मूंग डाल को कढ़ाई में डालकर थोड़ा गरम करदो फिर भिगादो,

चावल को दस मिनट तक भिगोके रखो,

moong dal khichdi preparation

step 1 – पहले हांड़ी में पानी डालकर अछेसे उबलने केलिए छोड़दो, (आप 1 गिलास चावल लेरहेहो तो डेढ़ गिलास पानी डालो अगर कटोरी में माप रहेहो तोभी एक कटोरी चावल केलिए डेढ़ कटोरी पानी डालो)

step 2 – पानी अछेसे उबल जानेके बाद हांड़ी में चावल और मूंग को धोकर डालदो साथमे हल्दी पाउडर और थोडासा नमक डालकर एक बार करछी से अछेसे मिलादो फिर आग को मेडिअम करके ढकन लगादो,

कुछदेर बाद हांड़ी से पानी उबलकर बाहर आनेलगेगी तब ढकन निकालकर एक बार चावल को हिलानाहे, फिर ढकन को हांड़ी के उपर आधा खुला करके रखनाहे जिससे पानी उबलकर बाहर नहीं आएगी,

जब पानी चावल के उपरसे सूखने लगे तो ढकन को अछेसे चावल के उपर डालकर हांड़ी को निचे उतारदेनाहे,

step 3 – आगमें कड़ाई रखकर अछेसे गरम होनेदो फिर उसमे घी डालो और घी गरम होनेपर उसमे सुखामिर्च को तोड़कर डालो, सूखा मिर्च अछेसे गरम होनेके बाद फ़ौरन को डालो और फ़ौरन थोडासा गरम होनेके बाद सारे फ़ौरन घी और सूखा मिर्च को हांड़ी में डालदो, साथमे नारियल की बुरादा और चीनी डालकर एकबार मिलादो,

अब बनके तैयार हे खुसबूदार moong dal khichdi recipe, अगर इसके साथ आप दालमा खातेहो तो खानेमे चार चाँद लगजाएगी,

तो दोस्तों कैसे लगी हमारी moong dal khichdi recipe? अगर इसके बारेमे कुछभी सबाल हे तो आप जरूर पूछे, ओरभी कुछ अलग रेसिपी जिसके बारेमे हमारी वेबसाइट पर जानकारी नहींहै उसके बारेमे भी आप पूछसकतेहैं, हम कोसिस करेंगे उसकी जबाब आपको शीघ्र देनेकेलिए जय हिंद।

पढ़े चावल बनानेकी बिधिके बारेमे पढ़े ⇓

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *